Last Updated on 26/12/2023 by S.R. Verma

यदि आप एक सरकारी एनपीएस कर्मचारी है तो आपके लिए यह जानना बहुत जरुरी है कि आप अपने एनपीएस की गणना कैसे करें| तो आज हम जानेंगे कि सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर कौन सा है और वह काम कैसे करता है| किस कंपनी का सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर बढियां है|

सरकारी कर्मचारी के लिए एनपीएस ही उसका भविष्य है, एनपीएस ही उसके बुढ़ापे का सहारा बनेगी| इसलिए सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए जो एनपीएस के अंतर्गत आते हैं उन्हें यह जानने की उत्सुकता रहती है कि एनपीएस की गणना कैसे करें| सरकारी कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर कौन सा है जिससे यह पता लगाया जा सके की एनपीएस में जमा होने वाला पैसा उनके सेवानिवृत्ति तक कितना हो जायेगा और उन्हें एनपीएस से कितनी पेंशन मिलेगी|

अब सरकार, सरकारी कर्मचारियों के लिए NPS में एक न्यूनतम पेंशन 40-45 % देने पर विचार कर रही है| जिससे एनपीएस को और अधिक लाभकारी और उपयोगी बनाया जा सके|

आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम जानेंगे कि सरकारी कर्मचारी के लिए एनपीएस की गणना कैसे की जाती है|सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर कौन से हैं और कौन बढियां हैं|

सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर

Table of Contents

सरकारी कर्मचारी के लिए एनपीएस गणना (कैलकुलेशन)

यदि आप एक सरकारी कर्मचारी हैं तो आपको यह मालूम होना चाहिए कि एनपीएस की गणना कैसे की जाती है | यानि आपकी सैलरी से एनपीएस की कटौती कितनी होनी चाहिए और उस एनपीएस खाते में  सरकार की तरफ से कितना योगदान होना चाहिए |

आपको यह जानकारी होनी चाहिए कि एनपीएस खाते में सरकार कर्मचारी के मूल वेतन (बेसिक पे, सातवें वेतन आयोग के अनुसार) तथा महगाई भत्ते का 10% कटौती कर जमा किया जाता है|

वहीँ सरकार द्वारा एनपीएस खाते में सरकारी कर्मचारी के मूलवेतन तथा मंहगाई भत्ते का 14% योगदान किया जाता है | दिनांक 01.04.2019 से सरकार द्वारा एनपीएस खाते में 14% योगदान किया जा रहा है इससे पहले सरकार द्वारा भी 10% का ही योगदान किया जाता था|

यह भी जानें: एनपीएस में कितनी पेंशन मिलेगी? खुद से गणना करना सीखें

यह भी पढ़ें: एनपीएस क्या है? एनपीएस अकाउंट की जानकारी कैसे प्राप्त करें?

सरकारी कर्मचारी खुद से अपने एनपीएस की कैलकुलेशन कैसे करे?

नीचे बताई गई प्रक्रिया से कर्मचारी खुद से अपने एनपीएस कटौती की गणना कर सकता है | अपने पेंशन और एकमुश्त मिलने वाले पैसे की गणना कर सकते हैं|

सरकारी कर्मचारी के एनपीएस की गणना प्रक्रिया

आइये सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस की गणना की प्रक्रिया को एक उदहारण से समझते हैं-

मान ली जिए किसी सरकारी कर्मचारी का मूल वेतन – रु.41100/-

माना मंहगाई भत्ता है- 42%

सरकारी कर्मचारी की एनपीएस कटौती की गणना 
सरकारी कर्मचारी का मूल वेतन (Basic pay) रु. 41100/-
मंहगाई भत्ता (DA) @42% रु. 17262/-
कुल वेतन रु. 58362/-
सरकारी कर्मचारी के वेतन से एनपीएस की कटौती(कुल वेतन का @10%) रु. 5836/-
सरकार द्वारा कर्मचारी के एनपीएस खाते में योगदान (कुल वेतन का 14%) रु. 8171/-
सरकारी कर्मचारी के एनपीएस खाते में कुल योगदान (स्वयं+सरकार) रु. 14007/-

यह भी पढ़ें: एनपीएस से नुकसान और फायदे क्या हैं ? निवेश करने से पहले जरुर जन लें

कुल एनपीएस फण्ड : Total NPS Fund

कुल एनपीएस फण्ड में सरकारी कर्मचारी और सरकार द्वारा किये गए एनपीएस खाते में योगदान को जोड़ दिया जाता है| और यह योगदान हर महीने की सैलरी मिलने के बाद एनपीएस खाता में जमा किया जाता है| एनपीएस फण्ड हर योगदान के साथ धीरे धीरे बढ़ता रहता है| यह प्रक्रिया तब तक चलती रहती है जब तक कि कर्मचारी सरकारी नौकरी में रहता है या सेवानिवृत्ति तक | इस प्रकार से जमा किया गया एनपीएस फण्ड रिटायरमेंट तक एक अच्छा अमाउंट हो जाता है|

एनपीएस (NPS) में जमा फण्ड की वैल्यू

सरकार कर्मचारी के एनपीएस खाते में जो पैसे जमा किये जाते हैं वह by default पेंशन योजनाओं में यानि SBI Pension Fund, LIC Pension Fund औरUTI Pension Fund में जमा कर दिया जाता है| और कर्मचारी को इन पेंशन फंड्स की यूनिट्स आबंटित कर दी जाती है| जैसे जैसे उक्त पेंशन फण्ड की NAV (नेट एसेट वैल्यू) बढती जाती है| वैसे वैसे सरकारी कर्मचारी के एनपीएस फण्ड की वैल्यू भी बढती जाती है|

इसे एक उदहारण से समझते हैं|

सरकारी कर्मचारी के एनपीएस में जमा फण्ड  की वैल्यू की गणना
माह जिसमे एनपीएस में पैसा जमा किया गयाजमा किया गया पैसा (रुपये में)फण्ड की NAV (रुपये में)आबंटित यूनिट्स की संख्या
जनवरी1000020500
फरवरी1000020.5487.80
मार्च1000021476.19
अप्रैल1000021.7460.82
मई1000023434.78
जून1000024416.66
कुल (Total)60000242776.25
एनपीएस फण्ड की कुल वैल्यू (2776.25×24) Rs. 66630/-

इस प्रकार से आपने उपरोक्त सारणी से 6 माह का एनपीएस फण्ड की वैल्यू का कैलकुलेशन देखा| जिसमे आपने छः माह में एनपीएस में 60000/- रूपए जमा किये जिनकी वैल्यू छः माह बाद बढ़ कर 66630/- रूपए हो गयी| इस प्रकार से छः माह में आपको एनपीएस से 11.05% का टोटल रिटर्न प्राप्त हुआ| यह एक काल्पनिक उदहारण है जो आपको यह समझने के लिए था कि एनपीएस में जमा फण्ड की वैल्यू किस प्रकार से निर्धारित होती है|

अब हम जानेंगे कि एनपीएस में जमा फण्ड जब रिटायरमेंट के बाद वापस किया जाता है तो उसकी गणना कैसे की जाती है|

सेवानिवृत्ति पर एनपीएस से Lumpsum निकालने के लिए योग्य फण्ड का कैलकुलेशन (Calculation of NPS Fund eligible for Lumpsum withdrawal)

जब एनपीएस का सरकारी कर्मचारी रिटायर होता है तो उसे एनपीएस में जमा पूरी राशि वापस नहीं की जाती है बल्कि उसे उसके एनपीएस खाते में जमा फण्ड की वैल्यू का 60% lumpsum (एकमुश्त) वापस किया जाता है| इस lumpsum की गणना एनपीएस में जमा फण्ड की वैल्यू का 60% निकाल कर किया जाता है|

इसे एक उदाहरण से समझते हैं-

मान लीजिए रिटायरमेंट के समय किसी सरकारी कर्मचारी के एनपीएस खाते में कुल  1 करोड़ रुपये हैं| तो रिटायरमेंट के समय उसे lumpsum (एकमुश्त) 10000000X60% = 6000000/-(साठ लाख रूपए) एनपीएस द्वारा वापस उसके बैंक खाते में जमा कर दिया जायेगा|

एनपीएस एन्युटी के योग्य फण्ड (NPS Fund eligible for Annuity)

चूँकि एनपीएस एक पेंशन योजना है इसलिए सरकार एनपीएस में जमा पुरे पैसे को कर्मचारी को वापस नहीं करती है| सिर्फ 60% ही एकमुश्त वापस करती है शेष 40% पैसे का उपयोग कर्मचारी को पेंशन प्रदान करने के लिए किया जाता है| कर्मचारी को अनिवार्य रूप से इस 40% पैसे की एन्युटी खरीदनी होती है| यह एन्युटी किसी भी रजिस्टर्ड Annuity Service Provider (ASP) से खरीदी जा सकती है|

एन्युटी पर औसतन सालाना 6% रिटर्न मिलता है| वही 6% रिटर्न ही कर्मचारी को पेंशन के रूप में हर महीने या तिमाही(जैसा भी प्लान चुनें) उसके बैंक खाते में एन्युटी सर्विस प्रोवाइडर जमा कर देता है|

उपरोक्त उदहारण के अनुसार एनपीएस एन्युटी फण्ड= 10000000X40% =4000000/-(चालीस लाख रूपए)

सरकारी कर्मचारी को इस चालीस लाख रूपए की एन्युटी खरीदनी होगी अनिवार्य रूप से | जिससे उसे पेंशन प्रदान की जा सके|

यह भी जानें: एनपीएस से पैसा कैसे निकालें? NPS se paise kaise nikale? आंशिक निकासी नियम

 सरकारी कर्मचारी को अनुमानित पेंशन (Estimated Pension to Govt. Employee)

एनपीएस के सभी कर्मचारियों के लिए यह एक महत्त्व पूर्ण प्रश्न है कि सेवानिवृत्ति में उसे अनुमानित कितनी पेंशन मिलेगी| तो एनपीएस में कितनी पेंशन मिलेगी यह दो महत्वपूर्ण कारको पर निर्भर है-

  • एनपीएस में जमा पैसे की वैल्यू या एनपीएस में कितना पैसा जमा है
  • एन्युटी की दर

यदि एनपीएस में जमा पैसे की वैल्यू अधिक है यानि एनपीएस में अधिक पैसा जमा है तो उसे अधिक पेंशन मिलेगी साथ ही यदि एनपीएस की एन्युटी की दर अधिक है तो उसे अधिक पैसे मिलेंगे| साथ ही सरकारी कर्मचारी के एन्युटी सिलेक्शन पर भी निर्भर करेगा की वह किस प्रकार की एन्युटी खरीदना पसंद करेगा| क्योंकि एन्युटी में 5 प्रकार के विकल्प उपलब्ध हैं|

Video on NPS Calculation/ retirement planning

आप नीचे दिए गए वीडियो से भी एनपीएस कैलकुलेशन सीख सकते हैं| देख सकते हैं कि NPS में कितनी पेंशन मिलेगी

Video Credit goes to youtube.com/@AssetYogi  you tube channel

सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर

NPS की वेबसाइट में सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर की सुविधा उपलब्ध कराई गई है| साथ ही आप NPS Trust की वेबसाइट से भी सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं| साथ ही अन्य निजी वित्तीय संस्थाओं के एनपीएस कैलकुलेटर की भी सुविधा प्रप्त कर सकते हैं| कुछ प्रमुख एनपीएस कैलकुलेटर निम्न हैं-

  1. NPS की वेबसाइट https://cra-nsdl.com/CRA/ में उपलब्ध एनपीएस कैलकुलेटर NPP
  2. NPS Trust की वेबसाइट https://npstrust.org.in/ में उपलब्ध एनपीएस कैलकुलेटर
  3. SBI NPS Calculator
  4. Groww एनपीएस कैलकुलेटर
  5. HDFC NPS कैलकुलेटर
  6. ICICI NPS कैलकुलेटर

सरकार कर्मचारी उपरोक्त में से किसी भी एनपीएस कैलकुलेटर का उपयोग करके सेवानिवृत्ति के समय उनके एनपीएस खाते में होने वाले पैसे के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं|साथ ही अपनी पेंशन और एकमुश्त मिलने वाले पैसे के बारे में जान सकते हैं| यहाँ एक बात सबसे महत्वपूर्ण है कि अभी तक का कोई भी एनपीएस कैलकुलेटर किसी भी सरकारी कर्मचारी का एनपीएस में जमा होने वाले पैसे का बिलकुल सटीक विवरण नही दे सकते हैं| यह सिर्फ आपको एक आईडिया दे सकते हैं कि लगभग इतना पैसा होगा आपके एनपीएस खाते में जब आप रिटायर या सेवानिवृत्त होंगे|

हम यहाँ पर NPS की वेबसाइट में उपलब्ध सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर का उपयोग करेंगे और जानेगे कि किसी एनपीएस के सरकारी कर्मचारी को सेवानिवृत्ति के समय कितना पैसे मिलेगा | उसके एनपीएस खाते में कितना पैसा होगा|  उसे कितनी पेंशन मिलेगी|

NPS की वेबसाइट में उपलब्ध सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर

हम यहाँ पर जाने गे कि एनपीएस की वेबसाइट में उपलब्ध, सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर को कैसे प्रयोग करें| नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें-

  • एनपीएस की वेबसाइट https://cra-nsdl.com/CRA/ पर जाएँ|
  • वेबसाइट खुलने पर कुछ इस प्रकार दिखाई देगी|
  • एनपीएस कैलकुलेटर पोर्टल
  • यहाँ पर बायीं तरफ दर्शाए गए टैब Know Your Pension पर क्लिक करें
  • NPS Prosperity Planner (NPP)
  • क्लिक करते ही एक नया पेज खुल जायेगा जिसका नाम होगा NPS Prosperity Planner
  • Nest पर क्लिक करें, एक न्य पेज खुलेगा
  • यहाँ पर आपसे पूंछा जायेगा कि आप भारत सरकार के कर्मचारी , राज्य सरकार के कर्मचारी, निजी क्षेत्र के कर्मचारी या इंडिविजुअल सब्सक्राइबर है |
  • केंद्र या राज्य सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर
  • यदि आप भारत सरकार के कर्मचारी है तो Government of India को चुने तथा यदि किसी राज्य सरकार के कर्मचारी है तो  State government employee को चुने
  • यही सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर है जो NPS द्वारा अपनी वेबसाइट में दिया गया है|
  • केंद्र सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर
  • मैं यहाँ पर Government of India को चुनता हूँ आप अपने हिसाब से चुनाव करें
  • इसके बाद आप किस ग्रेड के कर्मचारी है यह चुनाव करें जैसे कि आप Grade A, Grade B, Grade C या Grade D के कर्मचारी हैं| और next पर क्लिक करें
  • एक नया विंडो खुलेगा यहाँ पर आपसे आपकी जन्मतिथि, एनपीएस ज्वाइन करने की तिथि डालनी होगी रिटायरमेंट की तिथि को सिस्टम अपनेआप ही ले लेगा
  • सरकारी कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटरसरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर
  • अपनी जन्मतिथि और NPS जोइनिंग भरने के बाद सिस्टम खुद से ही आपका NPS का बैलेंस और कुल कॉन्ट्रिब्यूशन दिखाने लगेगा यह एक अनुमानित राशि होगी आपके केस में अलग भी हो सकती है
  • आप ऊपर इमेज में दिखाए गए My current NPS balance (Estimated) को बदल सकते हैं यदि आपके एनपीएस खाते में कुछ और दिख रहा है| NPS खाते में हो दिख रहा हो उसे ही यहाँ पर डाल दें और कैलकुलेट पर क्लिक करें|
  • इसके बाद next पर क्लिक करें
  • सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर
  • यहाँ पर आपसे यह पूंछा जायेगा कि हर वर्ष आपका एनपीएस कॉन्ट्रिब्यूशन कितना बढ़ेगा
  • by default या 10% सेट किया गया है आप इसे अपने अनुसार बदल सकते हैं|
  • साथ ही आपसे यह भी पूंछा जायेगा कि रिटायरमेंट के समय आप कितने प्रतिशत पैसे की एन्युटी खरीदेंगे
  • एन्युटी यहाँ पर by default 100% सेट किया गया है| चूँकि कम से कम 40% पैसे की एन्युटी खरीदना अनिवार्य है इसलिए मैंने यहाँ पर 40% सेट कर दिया है|
  • आप भी एन्युटी को अपने अनुसार सेट कर लें| और कैलकुलेट पर क्लिक करें
  • दायीं तरफ आपको आपके द्वारा एनपीएस में किया जाने वाला कॉन्ट्रिब्यूशन दिखाई देगा
  • साथ ही आपके उस एनपीएस कॉन्ट्रिब्यूशन की रिटायरमेंट के समय क्या वैल्यू होगी यह भी दिखायेगा यह सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर
  • इसके साथ ही आपको यह भी दिखेगा कि आपको रिटायरमेंट के बाद कितनी मासिक पेंशन मिलेगी
  • यहाँ पर एन्युटी प्लान के दो विकल्प दिखेंगे- Joint Life With ROP और Joint Life Without ROP|
  • यहाँ पर Joint Life का मतलब है पति की डेथ के बाद पत्नी को पेंशन या पत्नी की डेथ के बाद पति को पेंशन |
  • ROP का मतलब है कि Return of Principal यानि जन पति- पत्नी दोनों की मृत्यु हो जाएगी तो जितने पैसे की एन्युटी खरीदी गयी थी वह पूरी उनके नॉमिनी या वारिस को वापस कर दी जाएगी
  • यदि आप एन्युटी का Joint Life with ROP प्लान चुनातें हैं तो आपको पेंशन कम मिलेगी
  • वहीँ यदि आप एन्युटी का Joint Life without ROP प्लान चुनातें हैं तो आपको पेंशन अधिक मिलेगी किन्तु बाद में पैसा वापस नहीं मिलेगा

यदि आपको लगता है कि एनपीएस में रिटायरमेंट के बाद मिलने वाली पेंशन कम है तो क्या करें

ऊपर बताये गए  सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर में आपको यह सुविधा भी मिलती है कि यदि आपको भविष्य में मिलने वाली पेंशन कम लग रही है तो उसे बढ़ाएं कैसे| आइये जानते है कि एनपीएस कैलकुलेटर क्या कहता है-

  • ऊपर जब अपने चेक कर लिया कि आपको कितनी पेंशन मिलेगी और आप जानना चाहते हैं कि क्या यह पेंशन मेरे भविष्य के खर्चों के हिसाब से पर्याप्त है| तो आप check now पर क्लिक करें
  • एनपीएस पेंशन कैलकुलेटर
  • यहाँ पर आपसे आपके वर्तमान खर्चों (लिविंग एक्स्पेंसेस) के बारे में पूंछा जायेगा यहाँ पर बाई डिफ़ॉल्ट 1 लाख सेट किया गया इसे आप अपने अनुसार सेट कर लें
  • जैसे मैंने यहाँ पर 40000 रुपये सेट किया है|
  • इसके बाद आपसे यह भी पूंछा जायेगा कि आप भविष्य में कितने प्रतिशत की मंहगाई दर (इन्फ्लेशन) की अपेक्षा करते हैं| यहाँ पर बाई डिफ़ॉल्ट  5% की मंहगाई दर सेट की गई है | आप इसे घटा या बढ़ा सकते हैं|
  • इसके बाद कैलकुलेट पर क्लिक करें
  • दांयीं तरफ आपको दिखेगा कि आपको रिटायरमेंट के समय कितनी पेंशन की जरुरत होगी यदि आप अभी के खर्चों के हिसाब से भविष्य के खर्चे देखते हैं|
  • इसके बाद इस गैप या कमी को भरने के लिए आप How do I address the gap पर क्लिक करें
  • expected NPS Pension calculator यहाँ पर आपसे पूंछा जायेगा कि आप कितनी मासिक पेंशन प्राप्त करना चाहते है ताकि आप भविष्य के अपने खर्चों को आसानी से कर पाएं
  • इसमें आपको एनपीएस के द्वारा कैलकुलेट किया गया पेंशन अमाउंट दिखेगा जिसे आप आसानी से अपनी आवश्यकतानुसार बदल सकते हैं|
  • इसके बाद एन्युटी को चुने कि आप कितने प्रतिशत की एन्युटी खरीदेंगे किन्तु कम से कम 40% की एन्युटी खरीदना अनिवार्य है|
  • इसके बाद आपसे पूंछा जायेगा कि आप किस प्रकार की एन्युटी खरीदेंगे Joint Life With ROP या Joint Life Without ROP
  • इसके बाद कैलकुलेट पर क्लिक करें
  • दांयीं तरफ आपको दिखेगा कि यदि मै अपनी इच्छित पेंशन पाना चाहता हूँ तो मुझे कितना एनपीएस में कॉन्ट्रिब्यूशन करना चाहिए|
  • इसके बाद आप चाहें तो उतना ही एनपीएस कॉन्ट्रिब्यूशन बढ़ा सकते हैं | यह कॉन्ट्रिब्यूशन आपकी ही तरफ से किया जायेगा सरकार इसमें कोई योगदान नहीं करेगी|

इस प्रकार से एनपीएस की वेबसाइट में दिया गया सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर एक बहुत ही शानदार एनपीएस  कैलकुलेटर है| इस कैलकुलेटर से कोई भी सरकारी कर्मचारी आसानी से अपनी एनपीएस की कैलकुलेशन को कर सकता है|

इसके अतिरिक्त भी अन्य निजी कंपनियों के कैलकुलेटर को भी एनपीएस (NPS) की गणना में उपयोग किया जा सकता है| लेकिन जो प्रक्रिया ऊपर बताई गयी है वैसा आपको कहीं नहीं मिलेगा|

यह भी जानें NPS के बारे में

  1. एनपीएस क्या है? एनपीएस अकाउंट की जानकारी कैसे प्राप्त करें?
  2. एनपीएस से नुकसान और फायदे क्या हैं ? निवेश करने से पहले जरुर जान लें
  3. एनपीएस से पैसा कैसे निकालें? NPS se paise kaise nikale? आंशिक निकासी नियम
  4. सरकारी कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर
  5. एनपीएस में कितनी पेंशन मिलेगी? खुद से गणना करना सीखें

FAQs

सरकारी कर्मचारियों के लिए एनपीएस की गणना कैसे की जाती है?

1. सरकारी कर्मचारी का मूल वेतन (Basic pay) रु. 41100/-
2. मंहगाई भत्ता (DA) @42% रु. 17262/-
3. कुल वेतन रु. 58362/-
4. सरकारी कर्मचारी के वेतन से एनपीएस की कटौती(कुल वेतन का @10%) रु. 5836/-
5. सरकार द्वारा कर्मचारी के एनपीएस खाते में योगदान (कुल वेतन का 14%) रु. 8171/-
सरकारी कर्मचारी के एनपीएस खाते में कुल योगदान (स्वयं+सरकार) रु. 14007/-

क्या सरकारी कर्मचारियों के लिए एनपीएस अनिवार्य है?

केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए एनपीएस अनिवर्य है | जबकि अलग-अलग राज्य सरकारों में एनपीएस की अनिवार्यता अलग-अलग है| जैसे पंजाब राजस्थान और हिमाचल प्रदेश में अब एनपीएस को समाप्त कर दिया गया है| वहां पर अब ओपीएस यानि पुरानी पेंशन प्रणाली लागू कर दी गयी है

एपीएस में न्यूनतम पेंशन कितनी है?

एनपीएस में अभी न्यूनतम पेंशन फिक्स नहीं है कर्मचारी के एनपीएस खाते में उपलब्ध फण्ड के आधार पर ही एनपीएस से मिलने वाली पेंशन का निर्धारण किया जा सकता है| हलाकि अब सरकार एनपीएस में अंतिम वेतन का कम से कम 40-45% निश्चित पेंशन देने पर विचार चल रहा है|

एनपीएस में कितना पैसा निवेश कर सकते हैं?

एनपीएस में एक वर्ष में न्यूनतम 500 रूपए निवेश करना अनिवार्य है और अधिकतम की कोई लिमिट नहीं है| यदि सरकारी कर्मचारी हैं तो आप अपने और सरकार के द्वारा किये गए योगदान के अतिरिक्त आप अपनी तरफ से भी जितना चाहे उतना पैसे एनपीएस में डाल सकते हैं| और इस अतिरिक्त डाले गए पैसे पर 50000 रुपये की कर योग्य आय में अतिरिक्त छूट मिलती है|

क्या मैं एनपीएस में 1.5 लाख से ज्यादा निवेश कर सकता हूँ?

जी हाँ, किन्तु कर योग्य आय में छूट 80 C और 80CCD1 को मिलाकर 1.5 लाख से अधिक नहीं मिलती है और अपनी तरफ से अतिरिक्त जमा करने पर 80CCD2 के तहत 50000/- रुपये तक की कर योग्य आय में अतिरक्त छूट प्राप्त की जा सकती है|

उपरोक्त बताये गए कैलकुलेटरों में  से एनपीएस की वेबसाइट में उपलब्ध  सरकार कर्मचारी के लिए एनपीएस कैलकुलेटर एक बहुत ही बढियां कैलकुलेटर है | उम्मीद है आपको बताया गया प्रोसेस समझ में आया होगा जब आप इसे प्रैक्टिकल करेंगे तो यह बहुत ही आसान लगेगा| और आप आसानी से अपनी भविष्य की पेंशन को एस्टीमेट कर सकते हैं और उसके अनुसार अभी से उसे बढ़ाने के प्रयास कर सकते हैं| इस विषय में अपने सुझाव और प्रश्न नीचे कमेंट करके जरुर बताएं| धन्यवाद

S.R. Verma

Leave a Reply