Last Updated on 26/12/2023 by S.R. Verma

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करने के लाभ के साथ साथ इसके कुछ नुकसान भी है| इस पोस्ट के माध्यम से सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान (Sukanya Samriddhi Yojna ke nuksan) के बारे में चर्चा करेंगे| 

बेटियों की शिक्षा और समृद्धि के लिए वर्ष 2015 में भारत सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की थी|  जो धीरे-धीरे आगे चलकर अपनी खूबियों के कारण लोगों के बींच काफी प्रचलित हो गयी  और घर में बेटी के पैदा होने पर लोग तुरंत सुकन्या समृद्धि खाता (Sukanya Samriddhi Account) खुलवाते है और अपनी बिटिया के भविष्य के लिए बचत करना शुरू कर देते हैं और सरकार इस सुकन्या योजना में सर्वाधिक रिटर्न देकर अपना सहयोग भी करती है| 

यदि आप सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए आर्टिकल को एक बार जरुर पढ़ें

Table of Contents

सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान | SSY ke nuksan

सुकन्या समृद्धि योजना के 17 प्रमुख नुकसान निम्नलिखित हैं-

1. सुकन्या समृद्धि योजना की लॉक-इन अवधि (Lock-in Period) बहुत लम्बी है|

सुकन्या समृद्धि योजना में किया गया निवेश 21 वर्षों के लिए लॉक हो जाता है| यानि कुछ विशेष परिस्थितियों को छोंड़कर इस योजना से 21 वर्ष से पहले पैसा नहीं निकाला जा सकता है| एक आम निवेशक के लिए अपनी गाढ़ी कमाई को इतने दिनों तक lock रख पाना मुश्किल होता है|

2. इतनी लम्बे Lock-in Period के लिए बाज़ार में मौजूद अन्य विकल्प सुकन्या योजना से अधिक रिटर्न दे सकते हैं|

सुकन्या योजना में 21 वर्ष का lock-in period होता है और इसमें वर्तमान में 8% का सिर्फ ब्याज सरकार द्वारा दिया जाता है| वहीँ यदि बाज़ार में उपलब्ध अन्य विकल्पों जैसे mutual Fund और ULIPS जो एक लम्बे समय के निवेश होते हैं से तुलना की जाये तो ULIPS और Mutual Fund लम्बे समय में औसतन 15% तक का रिटर्न दे देते हैं वहीँ इनकी तुलना में सुकन्या समृद्धि योजना मात्र 6-8% तक का ही रिटर्न देती है जो काफी कम है| इसमें निवेशक को नुकसान होता है|

सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान

3. यदि आपने गलती से महीने की 5 तारीख के बाद सुकन्या खाते में पैसे जमा कर दिया तो आपको उस पैसे पर उस महीने ब्याज नहीं मिलेगा

सुकन्या समृद्धि योजना के नियम के अनुसार, आपके सुकन्या समृद्धि खाते में 5 तारीख तक जमा कुल पैसे और शेष माह में खाते में उपलब्ध कुल पैसे में जो भी कम होता है उसे ही ब्याज की गणना के लिए गिना जाता है| इस प्रकार से यदि आप ने 5 तारीख के बाद अपने सुकन्या खाते में पैसा जमा किया तो उस पर कोई ब्याज नहीं मिलेगा|

यह भी डाउनलोड करें: सुकन्या समृद्धि योजना चार्ट pdf

4. साल में 250 रूपए नहीं जमा करने पर आपका खाता default हो जायेगा

यदि आप अपनी बिटिया के सुकन्या खाते में साल में कम से कम रु.250/- नहीं जमा कर पाते है या किसी करणवश ध्यान नहीं रहा पैसे जमा करने का तो आपका सुकन्या खाता डिफ़ॉल्ट हो जायेगा | और अब आप इस खाते से कोई लेनदेन नहीं कर पाएंगे जब तक कि आप पेनाल्टी नहीं भरते हैं |

5. यदि सुकन्या खाता डिफ़ॉल्ट (Default) हो गया तो डिफ़ॉल्ट खाते को चालू करवाने पर पेनाल्टी देना पड़ता है

यदि आपका सुकन्या खाता default हो जाता है तो उसे Regularize करने के लिए  एक साल के लिए 50 रुपये पेनाल्टी के साथ 250/- रुपये जमा कर होते हैं| प्रति डिफ़ॉल्ट वर्ष के हिसाब से रु. 50/- की पेनाल्टी के साथ-साथ हर साल के Minimum 250/- रुपए जमा करने होते हैं|

6. एक परिवार की दो से अधिक बेटियों का खाता नहीं खुलवा सकते हैं (कुछ Exception को छोड़कर)

सुकन्या समृद्धि योजना के नियम के अनुसार, एक परिवार की सिर्फ दो बेटियों के ही सुकन्या खाता खुलवाये जा सकते हैं | यदि किसी के दो से अधिक बेटियां हैं तो उनका सुकन्या खाता नहीं खुलवाया जा सकता है | वे इस योजना से वंचित रह जाती हैं| जबकि यह योजना बेटियों के लिए ही है|

7. यदि आपकी बेटी की उम्र 10 वर्ष से अधिक हो गयी है तो आप अपनी लाडली का सुकन्या खाता नहीं खुलवा सकते

सुकन्या समृद्धि योजना का यह भी नियम है कि यदि यदि बेटी की उम्र 10 वर्ष से अधिक हो गयी है तो उसका सुकन्या समृद्धि खाता नहीं खोला जा सकता है| जिसकी वजह से कुछ बच्चियां इस योजना का लाभ लेने से वंचित रह जाती है|

8. सुकन्या समृद्धि खाते में एक साल में रु. 1.5 लाख से अधिक पैसे नहीं जमा किये जा सकते

सुकन्या समृद्धि योजना का यह भी नियम है कि इस खाते में एक साल में अधिकतम 1.5 लाख रूपए ही जमा किये जा सकते हैं| इससे अधिक नहीं जमा किये जा सकते हैं एक साल में

9. यदि आपने गलती से अपनी बेटी के सुकन्या खाते में रु. 1.5 लाख से अधिक जमा कर दिया तो आपको उस पर कोई ब्याज नहीं दिया जायेगा

यदि अपने गलती से अपनी बेटी के सुकन्या खाते में 1.5 लाख रूपये से अधिक जमा कर दिए है तो उस अधिक पैसे पर आपको कोई ब्याज नहीं दिया जायेगा और यथाशीघ्र उस पैसे को आपको वापस कर दिया जायेगा|

10. सुकन्या समृद्धि योजना का संयुक्त खाता नहीं खुलवा सकते

सुकन्या समृद्धि योजना का यह भी नियम है कि सुकन्या खाते को संयुक्त रूप में नहीं खुलवाया जा सकता है जैसे यदि माता-पिता चाहें कि उनका और उनकी बेटी का संयुक्त सुकन्या खाता खोल दिया जाये तो यह संभव नहीं है| और 18 वर्ष की होने के बाद बेटी को अपना खाता चलाने का अधिकार दे दिया जायेगा|

11. बेटी के 18 वर्ष की होने पर माता या पिता खाते को नहीं चला पाएंगे|

सुकन्या समृद्धि योजना के नियम के अनुसार, जब बेटी 18 वर्ष की हो जाएगी तो वह अपना सुकन्या खाता स्वयं चलाएगी| और माता या पिता इस खाते को नहीं चला पाएंगे| किन्तु यह बहुत ही risky होता है कि बिटिया को बहुत कम उम्र में इतने अधिक पैसे का मालिक बना दिया जाता है और माता या पिता से खाता संचालन सम्बन्धी सारे अधिकार छीन लिए जाते हैं

12. बेटी की शिक्षा के लिए खाते में जमा पैसे का 50 % से अधिक नहीं निकाल सकते हैं|

यदि आवश्यकता पड़ने पर आप अपनी बेटी की शिक्षा के लिए सुकन्या खाते से पैसे निकालना चाहते है तो आप अपने सुकन्या खाते में जमा पैसे का मात्र 50% ही निकाल पाएंगे| अगर अधिक की जरुरत है तो भी आप नहीं निकाल पायेगे|

13. बेटी की शिक्षा के लिए सिर्फ फीस का पैसा ही निकाल सकते हैं पढाई के अन्य खर्चों के लिए पैसा नहीं निकाल सकते हैं|

सुकन्या योजना के अंतर्गत, यदि आप बेटी की शिक्षा के लिए पैसे निकाल रहे है तो आप शिक्षा संस्थान द्वरा दी गयी Fee slip में जो भी पैसा अंकित होगा वही निकाल पाएंगे वो भी तब जब यह फीस आपके सुकन्या खाते में जमा पैसे के 50% से कम है| साथ ही आप पढाई से सम्बंधित अन्य खर्चों की पूर्ति के लिए अपने सुकन्या खाते से पैसे नहीं निकाल पाएंगे|

14. बेटी की शादी के लिए शादी की तिथि से सिर्फ एक माह पहले ही पैसा निकाल सकते हैं उससे ज्यादा पहले नहीं

यदि आपकी बेटी 18 वर्ष की हो गयी है और आप अपनी बेटी की शादी करना चाह रहे है उसके लिए आप उसके सुकन्या खाते से शादी की तिथि से अधिकतम एक महीने पहले ही पैसा निकाल पाएंगे| यदि आपको दो महीने पहले इसकी जरुरत है तो आप इस खाते से पैसे नहीं निकाल पाएंगे|

15. हर तीन माह में सुकन्या समृद्धि की ब्याज दर बदलने की आशंका

भारत सरकार द्वारा हर तीन माह में सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले ब्याज का 10 year Bond Yield के साथ मूल्यांकन किया जाता है और उसी के अनुसार अगले तिमाही के लिए  दिए जाने वाली ब्याज की घोषणा की जाती है| इस प्रकार से सुकन्या समृद्धि योजना की ब्याजदर हर तिमाही बदलने की आशंका रहती है| अतः सुकन्या समृद्धि योजना की ब्याजदर निश्चित किन्तु परिवर्तनीय रहती हैं|

16. यदि किसी के बेटी नहीं है तो उसे इस योजना का लाभ नहीं मिल पायेगा

यह योजना सिर्फ बेटियों के लिए है और यदि आपके परिवार में बेटी नहीं है तो आप इस योजना का लाभ नलेने से वंचित रह जायेंगे| बेटे इस योजना के पात्र नहीं हैं|

17. PPF के जैसे सुकन्या खाते को extend नहीं किया जा सकता है|

जिस प्रकार से PPF खाते को 5 -5 वर्ष के block में Extend किया जा सकता है, उसी प्रकार से सुकन्या खाते को extend नहीं किया जा सकता है|

सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान जानें विडियो के माध्यम से

नीचे दिए गए विडियो लिंक से आप सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

Video credit goes to XY- Axis Education you tube channel

FAQs: Sukanya Samriddhi yojna (SSY) ke nuksan

सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान क्या हैं?

इस योजना की परिपक्वता अवधि बहुत लम्बी यानि 21 वर्ष की है| इतनी लम्बी अवधि के लिए अन्य निवेश विकल्प भी है जो इससे अधिक रिटर्न दे सकते हैं| इसमें यदि 5 तारीख के बाद पैसे जमा किया तो उस महीने उन पैसों पर कोई ब्याज नहीं मिलता है| यह योजना सिर्फ बेटियों के लिए ही है जिनके बेटियां नहीं हैं उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा|

क्या सुकन्या खाते में जमा पैसा डूब सकता है?

नहीं, यह भारत सरकार की योजना है जिसमे एक निश्चित किन्तु परिवर्तनीय ब्याज मिलता है जो सरकार द्वारा निर्धारित किया जाता है| इसमें पैसा डूबने का कोई खतरा नहीं है|

सुकन्या समृद्धि योजना में यदि पैसा नहीं जमा कर पाए तो क्या होगा?

यदि आप साल में 250 रुपये सुकन्या समृद्धि योजना में नहीं जमा कर पाए तो आपका खाता डिफ़ॉल्ट हो जाता है और आपको इसे पुनः चालू करवाने के लिए 50 रुपये पेनल्टी देनी पड़ेगी|

क्या माता-पिता दोनों एक ही बच्चे के लिए सुकन्या खाता खोल सकते हैं?

नहीं, यह खाता माता-पिता में से कोई एक ही खोल सकता है |

सुकन्या खाताधारक की मृत्यु की स्थिति में क्या होगा?

मृत्यु प्रमाणपत्र प्रस्तुत करने पर खाता तुरंत बंद कर दिया जायेगा और खाते में शेष राशि ब्याज सहित भुगतान कर दी जाएगी|

ये कुछ सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान हैं जिन्हें जानना आपके लिये बेहत जरुरी है यदि आप इसमें निवेश करने की सोंच रहे है या निवेश करते हैं| उम्मीद है जानकारी अच्छी लगी होगी | यदि आपके इस विषय में कोई सुझाव या प्रश्न है तो नीचे कमेंट करके जरुर बताएं| धन्यवाद

S.R. Verma

Leave a Reply