Last Updated on 23/07/2023 by S.R. Verma

Table of Contents

PPF खाते की 10 ऐसी खूबियाँ जिन्हें आप जरुर नहीं जानतें होंगे !

यदि आप एक सैलरी पाने वाले कर्मचारी / अधिकारी हैं या थे, सरकारी या प्राइवेट में , या एक ऐसे आम नागरिक है जो अपने काम से या बिज़नेस से पैसे कमा रहे है तो आपने PPF Khata (खाता ) या PPF Account के बारे में जरुर सुना होगा | यदि नहीं सुना है तो हम आज उसी PPF खाते के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे और पीपीएफ खाता की 10 खूबियों के बारें में चर्चा करेंगे | जिन्हें जानना आपके लिए बेहद जरुरी है यदि आप PPF में निवेश करते है| यदि आप PPF खाते में निवेश करने के बारें में सोंच रहे है तो भी यह लेख आपके लिए बहुत उपयोगी होगा| यहाँ पर PPF Khata या PPF Account के बारे में सारी जानकारी मिलेगी | पहले हम PPF खाते के बारे में संछिप्त रूप में जानेगे उसके बाद उसके खूबियों के विषय में चर्चा करेंगे|

PPF खाते का एक संछिप्त विवरण:-

PPF Khata / PPF Account क्या है ?

PPF यानि Public Provident Fund एक बचत योजना के साथ- साथ आय कर बचत योजना है| इसकी शुरुआत 1968 में वित्त मंत्रालय के राष्ट्रीय बचत संस्थान (National Saving Institute) द्वारा की गयी थी | इस योजना का मूल उद्देश्य लोगो में छोटी बचतों को बढ़ावा देना है | और बदले में उन्हें एक अच्छे तार्किक रिटर्न के साथ-साथ आय कर में बचत का लाभ देना है | PPF Account में जमा पूंजी पर सरकार Income Tax Act की धारा 80 C के अंतर्गत आय कर में छुट देती है | PPF खाता में एक वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रूपए जमा किये जा सकते है और कम से कम 500 रुपये | इस खाता को चालू रकने के लिए खाताधारक को साल में कम से कम 500 रुपये जमा करने होंगे| और यदि 500 रुपये नहीं जमा कर पाए तो खाता Inactive यानि निष्क्रिय हो जाता है| और फिर इस PPF Khata को फिर से Active करवाने के लिए पेनाल्टी देनी पड़ती है | तब जाकर खता फिर से चालू हो पाता है |

PPF Khata (Account) कौन-कौन खोल सकता है ? Who is eligible to open PPF Account?

भारत में रहने वाले सभी लोग (Residents of India) अपना PPF खाता खुलवा सकते है | और वे सभी Tax Free Return के साथ-साथ आय कर में छूट के हक़दार होंगे|

क्या NRI या  Non Residents of India अपना PPF खाता खोल सकते है ?

नहीं, NRI यानि Non Residents of India, PPF खाता खुलवाने के लिए योग्य नहीं है | किन्तु यदि पहले से यानि जब Individual, Resident of India था और उसका PPF Account खुला हुआ था और बाद में वह  NRI यानि Non Residents of India हो गया तो उसका खाता चलता रहेगा maturity तक यानि 15 वर्ष तक |

PPF Khate की maturity:

PPF खाते की maturity अवधि 15 वर्ष की होती है | 15 वर्ष के बाद PPF खाते का  पूरा पैसा निकला जा सकता है | और खाता बंद किया जा सकता है| किन्तु यदि खाताधारक चाहे तो अपने बैंक या पोस्ट ऑफिस में आवेदन देकर पांच-पांच वर्ष की अवधि के ब्लाक में  खाता आगे बढाता जा सकता है | यानि खाता Extend कर सकता है | बढ़ी हुई अवधि में खाताधारक के पास दो विकल्प होते है – १. खाताधारक चाहे तो जमा करने के साथ साथ खाता को extend कर सकता है| या २. बिना जमा किये हुए खाता को आगे बढ़ा सकता है या extend कर सकता है  | इन दोनों बिन्दुओं के बारे में हमने आगे विस्तार से चर्चा किया है |

 अब हम PPF Account / PPF Khata की खूबियों के बारे में विस्तार से जानेगे

PPF Khata
PPF Khata

PPF खाते की 10 खूबियाँ

दोस्तों अब हम PPF khata की खूबियों की चर्चा विस्तार से करेंगे तो बने रहिये हमारे साथ और जानिए PPF की खास विशेषताओं के बारें में –

1. PPF खाते से लोन | Loan from PPF Account

यदि आपका PPF Khata है और आप उसमे पैसे जमा करते है तो आप अपने PPF Account के पैसे से तीसरे और छठे वर्ष के बीच लोन भी ले सकते है | यह लोन पिछले साल का जो बैलेंस होगा उसका 25% तक लिया जा सकता है| यह काफी किफायती लोन होता है जो PPF की ब्याज दर से मात्र 1% बढ़ा कर दिया जाता है| यह लोन 36 महीने के लिए ही लिया जा सकता है|और यदि तय समय में लोन की अदायगी नहीं कर पाए तो ब्याज दर PPF की ब्याज दर से 6% बढ़ा दी जाती है | इसलिए PPF Account के माध्यम से लिए गए लोन को समय से चुकाए |

2. PPF Account से आंशिक निकासी | Partial Withdrawal from PPF Account

यह जानकर आपको हैरानी होगी कि PPF खाते से 15 वर्ष से पहले भी पैसा निकाला जा सकता है किसी इमरजेंसी की स्थिति में | किन्तु यह पैसे PPF अकाउंट के 6 साल होने पर ही निकला जा सकता है | कितना पैसा निकला जा सकता है इसकी गणना इस प्रकार से करेंगे –

  • चौथे साल के अंत में शेष बचे बैलेंस का 50% या
  • निकालने वाले वर्ष से १ वर्ष पहले खाते में शेष बैलेंस का 50%

उपर्युक्त में जो भी कम से निकल सकते है |

यदि 15 वर्ष पुरे होने के बाद Extension लिया गया है तो उस स्थिति में 

  • यदि extension, without contribution के लिया गया है तो खाताधारक कोई भी Amount निकाल सकता है जो उसके खाते में मौजूद है |
  • यदि extension, with contribution के लिया गया है तो Extension period शुरू होने के पहले तक जो भी बैलेंस था उसका 60% तक निकाला जा सकता है|

3. 15 वर्ष से पहले भी PPF खाता बंद किया जा सकता है | Pre closer of PPF Account

कुछ इमरजेंसी की जरूरतों जैसे उच्च शिक्षा के लिए, स्वयं या परिवार के सदस्य के चिकित्सकीय इलाज के लिए, या फिर खाताधारक का Residency Status बदल गया हो जैसे NRI हो गया हो, तो खाताधारक अपना PPF Account, 15 वर्ष से पहले भी बंद करवा सकता है | किन्तु PPF खाते के 5 वर्ष पुरे होने के बाद ही ऐसा किया जा सकता है |

4. PPF खाते में 15 वर्ष की अवधि के बाद भी निवेश चालू रख सकते है | PPF Account can be continued after 15 years of lock-in period

चूँकि PPF khata में निवेश 15 वर्ष के लिए lock होता है किन्तु कोई भी खाताधारक अपने PPF Account में निवेश किये गए पैसे को 15 वर्ष की अवधि के बाद भी 5-5 वर्ष की अवधि के लिए extend कर सकता है | इसके लिए PPF खाता धारक को सम्बंधित बैंक या पोस्ट ऑफिस में जहाँ उसका PPF का खाता हो, में जाकर एक आवेदन पत्र द्वारा Extension के लिए आग्रह कर सकता है | और उसका खाता 5 वर्ष के लिए extend कर दिया जायेगा| 5 वर्ष बाद फिर यदि खाताधारक को पैसे की जरुरत नहीं है तो फिर से 5 वर्ष के लिए extend करवा सकता है |

5. PPF में हर माह की 5 तारीख तक करें निवेश:-

PPF खाते में हर माह की 5 (पांच) तारीख तक निवेश करने पर उस माह का व्याज मिलता है | 5 तारीख के बाद निवेश करने पर उस माह ब्याज नहीं मिलता है | वह फिर अगले माह में काउंट किया जाता है |

6. एक सुनिश्चित किन्तु परिवर्तनीय ब्याज दर :-

यद्यपि PPF khata में मिलने वाली ब्याज दरें हमेशा के लिए फिक्स नहीं होती है किन्तु PPF Account पर मिलने वाली व्याज दरें तीन महीने के लिए फिक्स होती है | PPF खाते पर मिलने वाली ब्याज दरों का निर्धारण 10 year bond yield के आधार पर होता है | इसी के आधार पर हर तिमाही PPF की ब्याज दरों का आंकलन किया जाता है | और उसी के अनुरूप ब्याज दरों को घटाया-बढाया जाता है |

PPF रिटर्न कैलकुलेटर : यहाँ से आप अपने PPF में निवेश किये गए पैसे पर मिलने वाले रिटर्न को जन सकते है की 15 वर्ष के बाद कितना पैसा मिलेगा

7. PPF  में  15 वर्ष का lock-in period है भी और नहीं भी :-

यद्यपि PPF khata में 15 वर्ष का lock-in period होता है किन्तु यह lock-in period सभी किश्तों के लिए नहीं होता है | जिस वर्ष खाता खोला जाता है सिर्फ उसी वर्ष जमा किये गए पैसे का lock-in period 15 वर्ष का होता है | इसके बाद हर साल यह एक वर्ष कम होता जाता है | जैसे यदि आपने 01.01.2022 को किसी बैंक में या पोस्ट ऑफिस में PPF Khata खुलवाया | और 10000 रूपए जमा कर दिए और फिर अगले साल यानि 01.01.2023 में आपने 20000 रुपये जमा किये तो जो अपने 10000 रुपये जमा किये थे उनका सिर्फ,  lock-in period 15 वर्ष का होगा उसके बाद जो 20000 रुपये जमा किये गए उनका lock-in period 14 वर्ष का रह जायेगा | अर्थात हर अगले वर्ष lock-in period कम होता चला जायेगा | 14 वें  वर्ष में यानि 01.01.2035 में जमा किये गए पैसे का lock-in period सिर्फ एक वर्ष का होगा | जबकि ELSS Mutual Fund की हर किश्त का lock-in period 3 वर्ष का होता है |

यह भी जानें : म्यूच्यूअल फण्ड क्या है ? यह कितने प्रकार के होते है ?

यह भी जानें : SIP क्या होती है ? SIP में निवेश कैसे करें?

8. तीन स्तरों में Tax बचत :-

PPF khata में निवेश आय कर (income tax) बचत का भंडार है | यहाँ पर किसी भी स्टेज में कोई टैक्स नही लगता है | इसलिए यह EEE (Exempt Exempt Exempt)  केटेगरी का निवेश कहा जाता है|  जैसे-

  • पहले स्तर में- PPF में निवेश करने पर आयकर की धरा 80 C के अंतर्गत आय में 1.5 लाख रुपये तक का डिडक्शन मिलता है |
  • दूसरे स्तर में – PPF में निवेश करने पर मिलने वाले रिटर्न में भी कोई टैक्स नही लगता है |
  • तीसरे स्तर में- जब PPF से पैसे निकाले जाते है तो भी कोई टैक्स नही लगता है |

9. अतितिक्त कर छूट:-

वर्तमान कर नियमों के अनुसार, यदि House wife/ Home maker को गिफ्ट किये गए पैसे को निवेश किया जाता है तो उससे प्राप्त होने वाली आय/ रिटर्न  को Husband की आय में जोड़ दिया जाता है आय कर एक्ट की धारा 60-64 (Clubbing of Income) के अंतर्गत |किन्तु PPF से प्राप्त होने वाले रिटर्न / आय के बारे में ऐसा नही होता है क्योंकि PPF से प्राप्त होने वाली आय Taxable नहीं होती है |

10. PPF में  न्यूनतम तथा अधिकतम निवेश :-

यदि आप PPF में निवेश कर रहे है तो आपको मालूम होना चाहिए कि  किसी भी निवेशकर्ता को  PPF खाते में एक साल में कम से कम 500 रूपए जमा करना होता है | तथा अधिकतम 1.5 लाख रूपए जमा कर सकता है | न्यूनतम की सीमा 500 रूपए होने से कोई भी निवेशक आसानी से जमा कर सकता है | किन्तु यदि किसी कारणवस् 500 रुपये नहीं जमा किये तो आपका खाता निष्क्रिय हो जाता है |और पुनः चालू करने के लिए 50 रुपये फाइन देनी पड़ती है| साथ ही आप एक साल में अधिकतम 1.5 लाख रुपये  जमा कर सकते है | किन्तु यदि आपने गलती से भी एक साल में  1.5 लाख से अधिक जमा कर दिया तो उस अधिकी पैसे पर कोई ब्याज नही मिलेगा|

तो दोस्तों ये रहीं PPF खाते की जबरजस्त खूबियाँ और अब हम PPF khata कैसे खुलवाएं इसके बारे में चर्चा करेंगे

 PPF Khata कैसे खुलवाएं ? How to open PPF Account in hindi

दोस्तों PPF Khata खुलवाने के दो तरीके है – 

  • Online माध्यम से 
  • Offline माध्यम से 

Online तथा offline दोनों माध्यम से PPF खाता कैसे खुलवाये इसके बारे में हम अलग अलग चर्चा करेंगे 

1. Online माध्यम से PPF Khata कैसे खुलवाएं :-

दोस्तों online माध्यम से बैंक में PPF khata खुलवाने के लिए आपके पास Internet Banking होनी चाहिए| जैसे SBI में आप अपना PPF Account खुलवाना चाहते है तो आपके पास SBI की Internet Banking होनी चाहिए |इसके बाद नीचे दी गयी प्रकिया को फॉलो करें

  • Internet Banking से अपने खाते में लॉग इन करें
  • लॉग इन के बाद ऊपर दायीं तरफ कोने में दिख रही ‘Request and Enquiries’ टैब पर क्लिक करें 
  • ड्राप डाउन में नीचे की तरफ एक विकल्प ‘New PPF Account’ दिखेगा| यहाँ पर क्लिक करें 
  • क्लिक करने के बाद एक नया पेज ओपन हो जायेगा नया PPF खाता खोलने के लिए
  • यहाँ पर अपनी सारी डिटेल्स भरें और सबमिट करें 
  • याद रहे सबमिट करने पर आपके मोबाइल में जो आधार से लिंक है और बैंक खाते से लिंक है उसमे तक OTP आयेगा
  • OTP वेरीफाई होने के बाद फॉर्म जमा हो जायेगा 
  • इस फॉर्म का एक प्रिंट निकलेगा और इसे लेकर साथ में अपनी एक फोटो, आधार और PAN Card की कॉपी लेकर 30 दिन के अन्दर बैंक जाना होगा 
  • बैंक जाने पर फॉर्म जमा करें अपने सभी डॉक्यूमेंट लगाकर और आपका PPF खाता खोल दिया जायेगा 

2. Offline माध्यम से PPF खाता कैसे खुलवाएं :-

दोंस्तों Offline माध्यम से PPF Khata खुलवाने के लिए आपको जिस बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाना चाहते है, वहां जाना होगा और साथ में निचे दिए गए डॉक्यूमेंट भी ले जाने होंगे 

  • आधार कार्ड original के साथ-साथ छायाप्रति भी 
  • PAN Card original के साथ-साथ छायाप्रति भी 
  • एक पासपोर्ट साइज़ फोटो 
  • मोबाइल नंबर जो आधार से लिंक हो 

ये डॉक्यूमेंट ले कर बैंक या पोस्ट ऑफिस की सम्बंधित डेस्क पर जाये जहाँ खाते खोले जाते है | वहां पर आपका सारा डिटेल ऑनलाइन भरा जायेगा और खाता खोल दिया जायेगा | इस प्रक्रिया में थोडा समय लगेगा| PPF Account खुलने के बाद, आपको एक PPF की पासबुक भी दी जाएगी आपको तुरंत कमसेकम  500 या इससे अधिक रुपये अपने नए PPF खाते में जमा करना होगा  और आपका PPF खाता चालू हो जायेगा

             इस प्रकार से दोस्तों आपने आज PPF खाता की कई सारी विशेषताओं को आज जाना होगा | इसके साथ ही ppf का account कैसे खुलवाये यह  भी जाना और भी बहुत कुछ | दोस्तों यदि आप अपने निवेश में जोखिम नहीं लेना चाहते है और और फिक्स रिटर्न प्राप्त करना चाहते है तो PPF Account में निवेश एक अच्छा विकल्प साबित होगा आपके लिए | किन्तु इसके लिए आपके पास 15 साल का समय होना चाहिए | इसकी सबसे खास बात यह है की यह एक EEE  केटेगरी का निवेश है जिसमे किसी भी स्तर में कोई भी टैक्स नही लगता है|इसलिए भी लोग इस सेविंग इंस्ट्रूमेंट की तरफ खिंचते है | उम्मीद है दोस्तों आपको जानकारी अच्छी लगी होगी |  यदि कहीं पर कोई चीज न समझ में आई हो तो आप नीचे कमेंट करके पूंछ सकते है | उत्तर देने की पूरी कोशिश की जाएगी | अपने दोस्तों के साथ यह पोस्ट जरुर शेयर करें ताकि उन्हें भी इस योजना की जानकारी हो सके और लाभ ले सकें|

धन्यवाद,

S.R. Verma

Leave a Reply